राग हमीर | Raag Hamir | ऑनलाइन सीखिए हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत

राग हमीर कल्याण थाट का एक राग है जो रात में गाया जाता है। इस राग में सभी स्वर शुद्ध होते हैं। आपको ” मधुबन में राधिका ” गाना तो निश्चित रूप से याद होगा जिसे मोहम्मद रफ़ी ने गाया था। ये गाना इस राग का एक अच्छा उदाहरण है जो बहुत ही प्रचलित और हिट हुआ था। इस गाने की विशेषताएं इस प्रकार हैं।

आरोह सा रे ग म ध नी सा’
अवरोह ‘सा नी ध प – मप – ग म रे सा
पकड़ ग म नी ध- प – म प – ग म रे सा
जाती षाडव -सम्पूर्ण
वादी / सम्वादी ध / ग
थाट कल्याण
प्रहर रात्रि ( 9 से 12 )
स्वर सभी शुद्ध

राग हमीर पर आधारित कुछ गाने इस प्रकार हैं। प्रतिदिन कुछ नया सीखने के लिए और संगीत में अच्छा बनने के लिए हमारे इस साइट को सब्सक्राइब ज़रूर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *